SEO क्या है और कैसे करे – What is SEO in Hindi (2022 Edition )

अगर आप चाहते है की आपकी वेबसाइट  Google या किसी भी अन्य सर्च इंजन पर टॉप पर दिखाई दे तो उसके लिए आपको अपनी वेबसाइट का  SEO करना ज़रूरी  है।आप चाहे कितना भी अच्छा ब्लॉग ये आर्टिकल लिख लीजिये। अगर अपने अपनी वेबसाइट का SEO नहीं किया है तो इसका कोई फायदा नहीं होगा, क्योंकि आप चाहे जितनी भी मेहनत कर ले सब पानी में जाने के बराबर होगी।

अब आप सोच रहे होंगे की यह SEO क्या है और कैसे करते है। और यह Blog या Website के लिए क्यों जरूरी है। तो आप निश्चित रहे हम आपको बताएंगे, और यह भी बताएंगे की सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन को Step by Step कैसे किया जाता है। अगर अपने यह पोस्ट पूरी पढ़ ली तो आप भी आसानी से अपनी  वेबसाइट या ब्लॉग को रैंक करवा पाएंगे । आपको कोई और आर्टिकल पढ़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी |

 

What is SEO

SEO का पूरा नाम ” Search Engine Optimization ” है, यह के ऐसी तकनीक है जिसके ज़रिये हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट को Organically या Free तरिके से किसी भी सर्च इंजन पर टॉप पर रैंक करवाते है। हर ब्लॉगर यही चाहता है की उसकी वेबसाइट ज्यादा से ज्यादा रैंक करे और उसकी वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक आये। 

चलिए एक उदाहरण के तोर पर समझने की कोशिश करते है, मान लीजिये आपने Google पर कुछ भी सर्च किया। अब Google आपको उससे सबंधित वेबसाइट दिखायेगा। जो अभी आप सर्च बॉक्स में टाइप करते है वही कीवर्ड होते है। उसी कीवर्ड से सबंधित वेबसाइट आपको Google के रिजल्ट पेज पर टॉप पर रैंक करती हुई दिखाई देंगी, वो इसलिए क्योंकि उन वेबसाइट का अच्छे से SEO हुआ होता है, जिसकी वजह से वो टॉप पर रैंक कर रही होती होती है।

Search Engine Optimization से न बल्कि आपकी वेबसाइट रैंक करती है , बल्कि वह वेबसाइट Google Algorithm के अनुसार ऑप्टिमाइज़ होती है जिससे आपकी वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा Visitors आने लग जाते है , और जिससे ज्यादा कमाई होती है। अब तो आप समझ गए होंगे की सर्च इंजन ऑप्टीमाईज़ेशन इतना ज़रूरी क्यों है।

SEO क्या है – What is SEO in Hindi

SEO यानी Search Engine Optimization एक ऐसी तकनीक है जिसके ज़रिये हम अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को इस तरह ऑप्टिमाइज़ करते है की जिससे वह किसी भी सर्च इंजन पर टॉप पर रैंक कर सके | जिससे ज्यादा से ज्यादा Visitors हमारी वेबसाइट पर आये और हम कमाई कर सके | SEO की मदद से हम अपने ब्लॉग या आर्टिकल पर ज्यादा से ज्यादा Visitors लाने की कोशिश करते है |

Website को First Page में टॉप पर लाना इसलिए भी जरूरी होता है | क्योंकि ज्यादातर लोग यानी की जो Visitors होते है वे केवल टॉप की Websites को ही Open करके देखना पसंद करते है | इसीलिए हमे SEO फॉलो करना पड़ता है |

अगर आप अपनी Website के ज़रिये कोई Service या Product बेच रहे हो , और आपकी Website ही आपके Customers को नहीं दिखाई देगी तो आप अपनी Service या Product नहीं बेच पाएंगे , जिससे आपको बहुत नुकसान उठाना पड़ सकता है|

मैं आपको इस तकनीक के बारे में सारी जानकरी दूंगा , जिससे सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के बारे में आपको हर एक इनफार्मेशन जानने को मिलेगी। जिसकी मदद से आप भी अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को आसानी से रैंक करवा पाएंगे। तो कृपया अंत तक बने रहे |

SEO की फुल फॉर्म क्या होती है?

SEO की फुल फॉर्म होती है – “Search Engine Optimization” और जिसे हम हिंदी में “सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन” बोलते है।

Blog के लिए SEO क्यों ज़रूरी है?

आप सोच रहे होंगे की आखिर ये SEO Blog के  लिए ज़रूरी क्यों है? मान लीजिये आपने एक अच्छी सी  Website बनाई और Blog भी अच्छा लिखा और उसे Publish भी कर दिया परन्तु उसका SEO नहीं किया तो उसका कोई फायदा नहीं होगा।

SEO Image

अगर हमने अपने Blog या Website में SEO इस्तेमाल नहीं किया और अगर कोई User कोई Keyword Search करता है तो उसको आपकी Website नहीं दिखाई देगी। यहाँ तक की अगर आपकी Website में उस Keyword से सबंधित Content है , तब भी User आपकी Website तक नहीं पहुंच पायेगा।

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि Search Engine आपकी वेबसाइट को ढूंढ नहीं पायेगा। और आपकी Website के Content को अपने Server यानी की अपने Database में Store नहीं कर पायेगा। और जब Database में Store नहीं कर पायेगा , तो Users को क्या दिखायेगा|

Search Engine Optimization इतना भी मुश्किल नहीं है, जितना आप सोच रहे होंगे। एक बार अगर आपने अच्छे से SEO करना सीख लिया | तो आपको आपकी Website टॉप पर रैंक करवाने से कोई नहीं रोक सकता |

जब आप Search Engine optimization सीख लेते हो और इसका इस्तेमाल अपने Blog के लिए करते हो , तो इसका Result आपको जल्दी देखने को नहीं मिलता। इसमें थोड़ा समय लगता है। इसमें आपको धैर्य रखने की जरूरत होती है। आप जितना समय SEO करने में लगाएंगे। आपको उतना ही इसका फायदा देखने को मिलेगा , और जल्दी देखने को मिलेगा।

अब हमने जान लिया की SEO हमारे Blog की रैंकिंग के लिए क्यों जरूरी होता है |

SEO इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

तो आईये Search Engine Optimization के महत्त्व को गहराई से जानते है :
  • SEO हम सर्च इंजन के लिए ही नहीं बल्कि Users के अच्छे Experience के लिए भी करते है। जितना अच्छा उनको आर्टिकल लगेगा उतनी ही देर तक वह  Website पर टिके रहेंगे। जिससे Bounce Rate भी नहीं बढ़ेगा।
  • SEO में आपको हर वक्त अपडेट रहना पड़ता है | मतलब मार्किट में क्या नया चल रहा है , आपको अपने कंटेंट को उसी हिसाब से अपडेटेड रखना होता है। ताकि Users को नया और फ्रेश कंटेंट मिल सके।
  • Search Engine Optimization किसी भी Website की ट्रैफिक के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है।
  • अगर आप चाहते हो की आप competitor से हमेशा आगे रहे तो उसके लिए SEO करना जरुरी है।
  • ज्यादातर जो Users होते है वह Google के दिखाए गए Top Result कि Websites को ही खोलकर देखते है। जिस वजह से टॉप पर रैंकिंग के लिए Search Engine Optimization जरूरी हो जाता है, ताकि आप टॉप पर ही रहे।

SEO करने के फायदे?

आइए SEO के फायदों के बारे में जानते है :

  • Website का SEO कर हम अपनी Website को पहले पेज पर Rank करवा सकते है।
  • Search Engine optimization करके हम अपनी Website पर ज्यादा से ज्यादा visitors ला सकते है।
  • Website का Search Engine Optimization करके हम ज्यादा से ज्यादा Income कमा सकते है।
  • इसको करके हम Website को Google की गाइडलाइन्स के अनुसार बना सकते है।
  • इससे Website का Google की नजरो में Positive Impact पड़ता है। जिससे हमारी Website की Authority बढ़ती है। और Google हमारी Website को जयादा से ज्यादा लोगो को दिखाने लग जाता है।

Types of SEO in Hindi ( SEO के प्रकार )

SEO मुख्यत: तीन प्रकार के होते है, पहला Onpage SEO दूसरा Offpage SEO और तीसरा होता है, Technical SEO, यह तीनो Website की Ranking के लिए जरुरी होते है। चलिये इन तीनो को एक एक करके समझते है।

  • Onpage SEO
  • Offpage SEO
  • Technical SEO

1. On Page SEO क्या होता है?

यह एक ऐसा तरीका है जिसके जरिए हम अपनी वेबसाइट के अंदर यानी Internal factor पर काम करते है। ताकि हमारी वेबसाइट रैंक कर सके। इसमें हमारा उद्देश्य अपने ब्लॉग या वेबसाइट को अच्छे से डिज़ाइन करना जो की SEO Friendly हो।

अगर में साधारण भाषा में बताऊ तो हमे अपनी Website का On page SEO करना होता है, जैसे User friendly आर्टिकल लिखना, Meta Title , Meta Description, Google की Guidelines को फॉलो करके आर्टिकल लिखना, और Content में keywords का इस्तेमाल करना। ताकि Google के Crawlers कंटेंट को अच्छे से रीड कर सके उन्हें समझ सके की आपका कंटेंट किस बारे में है। यह google पर जल्दी रैंकिंग करने में मदद करता है। जिससे ट्रैफिक बढ़ता है।

On Page SEO कैसे करे 

अब हम On Page की ऐसी Techniques के बारे में बात करेंगे, जिसके जरिये हम अपनी वेबसाइट को आसानी से रैंक कर सकेंगे। और On Page SEO को Step by Step अच्छे से कर पाएंगे।

1. Keyword Research

जब भी हम अपनी Website के लिए Blog या Article लिखते है। तो उसमे Keyword Research सबसे ज्यादा जरुरी होता है। या यूँ कहे की यह Ranking का एक महत्वपूर्ण factor है।

आपको अपना Blog लिखते समय Keyword का बहुत अच्छे तरीके से प्रयोग करना होता है। अच्छे तरिके से Research करके ही आप अपना Blog लिखें।      आप  जितने अच्छे से Keyword Research करेंगे। आपका Blog उतनी अच्छे से रैंक कर पाएगा।

Keyword Research करते समय हमे Focus keywords और LSI keywords पर ज्यादा ध्यान देना होता है। जिससे Blog Top पर Rank कर सके। अगर आप पहली बार Blog लिख रहे है। तो आपको Long Tail keywords का ही Use करना चाहिए।

2. Title Tag Creation : 

Title Tag आपके ब्लॉग के बारे में बताता है की आपका ब्लॉग किस बारे में है। इसे अच्छे से Keyword Research करके ही लिखे। और ज्यादा से ज्यादा Targeted Keywords पर ही ध्यान दे। ध्यान रहे की आप अपने ब्लॉग के Title में 65 से ज्यादा Words का प्रयोग न करे। क्योंकि Google SERP में 65 से ज्यादा Words को नहीं दिखता। और इससे रैंकिंग पर असर पड़ सकता है।

 3. Meta Tag Creation : 

Meta Tag आपकी वेबसाइट का एक Short Description होता है। जिसमे आप कम शब्दों में अपनी वेबसाइट का Description देते है। इसमें हमे Focus Keywords और Targeted Keywords पर ध्यान देना होता है। ध्यान रहे Meta Tag की Length 150-170 Words के बिच ही होनी चाहिए।

4. Image Alt Tag : 

जब भी आप अपनी वेबसाइट पर कोई Image Upload करे। तो ध्यान रहे की उस Image को नाम दे। इसे हम Image Alt Tag बोलते है। क्योंकि Google के जो Crawlers है, वह Image को पढ़ नहीं सकते। अगर आप इमेज को नाम देंगे तो google का Crawler उसको समझ पायेगा की वह इमेज किस बारे में है। यह भी google में रैंकिंग का महत्वपूर्ण Factor है।

 5. Post URL Structure : 

आपकी जो पोस्ट है उसका URL हमेशा छोटा होना चाहिए। और SEO Friendly होना चाहिए। कोशिश करे की उसमे आप अपने Keywords डाले।

6. Heading Tag :

आप जब भी blog लिखे तो उसमे Headings का अच्छे से और ध्यान से उपयोग करे। एक blog Post में केवल एक ही H1 Heading Tag होना चाहिए। एक से ज्यादा होने पर यह Black Hat SEO में आता है। जिससे website पर Negative Impact पड़ता है।

आईये जानते है की कोन सी Heading का Post में हमे कितनी बार प्रयोग करना चाहिए।

Heading tags का इस्तेमाल :

Understanding of Headings

7. Internal और External Linking करे :

आपको अपनी website में Internal और External Linking ज़रूर करनी चाहिए। जिससे आपकी website की Quality और Ranking Improve होती है। जिससे website पर ट्रैफिक बढ़ता है। और website की Authority भी बढ़ती है।

8. Content Duplicacy :

जब भी आप website पर content लिखे तो ध्यान रहे की वह content Duplicate न हो। आप जितना Unique Content लिखेंगे आपकी website के टॉप पर जल्दी रैंक होने की उतनी ही ज्यादा सम्भावना होगी। अपने यह बात तो सुनी ही होगी Content is King यह बात इसी पर लागु होती है। Content Duplicacy होने पर Google आपकी website को Penalize भी कर सकता है।

तो यह थी On Page SEO की कुछ महत्वपूर्ण Activities जिसके ज़रिये हम अपनी website को आसानी से रैंक करवा सकते है।

2. Off Page SEO क्या होता है?

Off Page SEO एक ऐसी तकनीक है। जिसको हमे website के अंदर न करके website के बहार करना होता है। इसे Off Page SEO कहते है। इसमें हमे अपनी Website के लिए Backlinks Create करने होते है। दूसरी High Authority Website के Links अपनी Website पर create  करने होते है। जिन्हे हम Backlinks Creation बोलते है। इससे हमारे Website की Authority बढ़ती है। साथ ही साथ Website की Ranking भी Increase होती है, जिससे Website पर Traffic बढ़ता है।

Off Page SEO कैसे करे 

चलिए Off Page SEO की कुछ Activities देखते है। जिससे हम Backlinks create करते है।

  • Directory Submission
  • Forum Submission
  • Press Release Submission
  • Guest Posting
  • Blog Submission
  • Article Submission
  • Profile Submission
  • Web 2.o
  • Image Submission
  • Document Submission
  • Pdf Submission

इसके आलावा और भी कई तरिके होते है। जिससे हम अपनी website के लिए Backlinks Create कर सकते है।

3. Technical SEO क्या होता है?

Technical SEO एक ऐसी तकनीक है, जिसमे हम website के technical factor पर काम करते है। जिससे सर्च इंजन को हमारी website को crawling और indexing करने में सहायता मिलती है। जिससे वह आसानी से हमारी website की information को अपने database में store कर सके।

चलिए देखते है की यह technical factors कौन-कौन से है।

1.Robots.Txt Files :

इसमें हम Robots.Txt Files बनाते है, और Google के Crawlers यानी bots को Suggestions देते है की , हमारी website के किस पेज को Crawl करना है और किस पेज को नहीं। 

2. Sitmap.xml File Submit करना :

Sitmap में हमारी website की सारी Data files होती है, जिसमे हमारी website के pages , posts इत्यादि की data files होती है। इसकी सहायता से google के Crawlers हमारी website को Crawl और Index करते है।

3. Website Loading Speed :

यह भी SEO का महत्वपूर्ण factor है। इसमें हमे अपनी वेबसाइट की Loading Speed पर ध्यान देना होता है। जब भी कोई user हमारी website पर आये तो तो हमारी Website 3-4 सेकंड के अंदर खुल जानी चाहिए। इसमें users Experience बढ़ता है। अगर हमारी Website open होने में ज्यादा समय लेगी तो user किसी दूसरी Website पर शिफ्ट हो जायेगा। जिससे हमारी Website का bounce rate बढ़ता है। ।

यहाँ हम जानेगे की हम कैसे अपनी Website की speed को improve कर सकते है। जिससे की वह कम से कम समय में खुल सके।

  • Light Theme का उपयोग करे।
  • कम से कम Plugins का उपयोग करे।
  • फालतू के Plugins को delete कर दे।
  • Images हमेशा काम साइज की डाले। उन्हें compress करके ही डाले।
  • Lazy Load और WP Super Cache Plugins का उपयोग करे।

4. Canonical issue या Canonicalization :

अगर आपकी website का URL सही नहीं होगा तो इससे Canonical issue create होता है। जैसे की अगर कोई भी user आपकी website के Domain name को किसी भी तरिके से टाइप करे, तो वह एक ही URL पर खुलना चाहिए।

canonical Issue

5. Broken Links :

इसमें हमे अपनी website में वो Links देखने होते है जिनके Connection टूट चुके होते है। जैसे User हमारी website के किसी भी link पर क्लिक करता है, अगर वह पोस्ट जिसमे हमारा link लगा हुआ है। अगर वह पोस्ट Exist ही न करती हो या फिर पोस्ट delete हो गयी हो। तो जब भी User उस पोस्ट पर जाने के लिए क्लिक करेगा तो वह उसे 404 या post does not exist दिखायेगा। जो की SEO के नज़रिये से सही नहीं होगा। इससे User को खराब Experience मिलता है। इस पर हमे खास ध्यान देने की जरूरत होती है।

अब तो अपने जान लिया की Technical SEO क्या होता है , और इसे कैसे करते है।

हमने सिख लिया की SEO क्या होता है। और इसे कैसे करते है। हमने यह भी समझा की On Page SEO , Off page SEO  और Technical SEO क्या होता है।

SEO के बारे में Short Summary in Hindi 

SEO एक Organic तरीका है। जिसमे हम Organic तरिके से अपनी Website की Ranking को Improve करते है। जिसमे हमारा मुख्य उद्देश्य Website को First Page के First position पर Rank करना होता है।

तो यह था Search Engine Optimization का विश्लेषण जिसमे हमने जाना SEO क्या होता है। और यह Website के लिए क्यों जरुरी है।

निष्कर्ष-

इस आर्टिकल में हमने जाना की SEO क्या होता है। और क्यों करते है। SEO के Techniques और Ranking Factors के बारे में जाना। मुझे यकीन है की यह आर्टिकल आपको आपका Blog Rank करवाने में आपकी मदद करेगा। अगर आपको इस आर्टिकल को लेकर कोई भी प्रश्न हो तो आप कमेंट करके जरूर पूछ सकते है।